केजीसीसीआई ने अवैध वसूली पर जताई आपत्ति

दिनांक 30 मार्च, 2015 को केजीसीसीआई के वरिष्ठ उपाध्यक्ष
श्री आलोक कुमार गोयल के नेतृत्व में कुमायूं गढ़वाल चैम्बर आॅफ काॅमर्स एण्ड इण्डस्ट्री
के महुआखेड़ागंज चैप्टर की एक बैठक श्री पी
0एस0 राणा, उपजिलाधिकारी काशीपुर के साथ उनके कार्यालय में सम्पन्न हुई। 

केजीसीसीआई के वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्री आलोक कुमार गोयल ने उपजिलाधिकारी
को अवगत कराया कि महुआखेड़ा गंज में स्थित औद्योगिक इकाईयों में प्रयुक्त होने वाले
वाहनों से नगर पंचायत
, महुआखेड़ा गंज द्वारा तहबाजारी के तहत मनमाने तरीके
से वसूली की जा रही है जबकि तहबाजारी का नियम किसी भी प्रकार के वाहनों पर लागू नहीं
होता। यह केवल नगरपंचायत की सीमा में फड़ लगाकर माल बेचने वालों पर ही लागू होता है।
नगरपंचायत द्वारा इस शुल्क की कोई सीमा भी निर्धारित नहीं की गयी है। महुआखेड़ा के
अतिरिक्त उत्तराखण्ड में अन्य किसी भी नगरपंचायत द्वारा वाहनों से इस प्रकार का शुल्क
नहीं लिया जाता। इस प्रक्रिया से महुआखेड़ागंज के उद्योगों पर अतिरिक्त आर्थिक दबाव
पड़ रहा है
, अतः इसे यथाशीघ्र बन्द किया जाना चाहिए।
श्री पी0एस0 राणा, उपजिलाधिकारी काशीपुर
ने इस समस्या के समाधान हेतु केजीसीसीआई के  प्रतिनिधिमण्डल को को इस मामले में
यथाशीघ्र सकारात्मक कार्यवाही करने का आश्वासन दिया। इसके साथ ही उन्होंने उद्योगों
के प्रतिनिधियों को काशीपुर नगर के विकास कार्यों जैसे- लाईटिंग एवं सुगम व सुरक्षित
यातायात की व्यवस्था हेतु सीएसआर के अन्तर्गत सहयोग करने की मांग की।

इस अवसर पर केजीसीसीआई के वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्री आलोक कुमार
गोयल
, कोषाध्यक्ष श्री नितिन अग्रवाल, महुआखेड़ागंज के जोनल चेयरमैन श्री पुनीत सिघंल, श्री पीयूष मिश्रा, श्री एस0 के0 मिश्रा, श्री अंशुल जिन्दल आदि उपस्थित थे।
इनसाइड कवरेज न्यूज़ – www.insidecoverage.in, www.kashipurcity.com, www.adpaper.in

Leave a Reply