प्रकर्ति ने किया फिर इशारा ! प्रकर्ति के एहसान से जीता है इंसान !

प्रकर्ति को बर्बाद मत कर ! एहसान को चुकाने का प्रयत्न कर !
आज भारत के साथ साथ पडोसी देश नेपाल में भूकंप ने तबाही  मचा दी, और प्रकर्ति ने फिर एहसास करा दिया कि इंसान की औकात क्या है, एक पल में ही पत्तो की तरह बिखर सकती है स्वार्थी  इंसान की दुनिया।  

           लेकिन इंसान प्रकर्ति से छेड़छाड़ करता ही रहता हैं, बर्बाद करने पर तुला है, जल हो, जंगल हो, धरती हो, आकाश हो सभी को उजाड़ने में लगा है, अगर ऐसे ही चलता रहा तो वो दिन दूर नहीं जब प्रकर्ति अपनी पूरा रौद्र रूप दिखा देगी और इंसान का नमो निशान नहीं रहेगा। 
        अब भी वक्त है अगर धरती को बचाना है तो कुछ करना ही होगा, प्रकर्ति से छेड़ छड करने वालो को रोकना ही होगा, इंसानों को प्रकर्ति के किये हुए एहसान को समझना होगा और उस एहसान को थोडा भी उतारने के लिए सोचना होगा , भविष्य में जीवों की सुरक्षा करना बहुत जरुरी है।
इनसाइड कवरेज न्यूज़ – www.insidecoverage.in, www.kashipurcity.com, www.adpaper.in

Leave a Reply