खनन माफियाओं को खत्म करना है

उत्तराखंड देवभूमि में —–दानव टाइप के कुछ माफिया लोग जिनका सत्ता के साथ अटूट गठबंधन है….. कुछ दलाल टाइप के लोग जो मुख्यमंत्री तक की बोली बिना मुख्यमंत्री के पूछे लगाने का दम रखते हैं.…

मात्र  13  जिलों के राज्य के सभी डीएम को अपनी जेब में रखने का दम्भ भरने वाले——पुलिस के हर एक  वर्दीधारी को अपना गुलाम समझने की मानसिकता रखने वाले—– इन दल्लों को आज मुँह तोड़ जवाब मिला नैनीताल जिले के गाँव वीरपुर लच्छी में.… जब महापंचायत के दौरान हुई जनसभा में पुलिस कर्मिओं के प्रति स्नेह स्पष्ट नज़र आया.यह पहला मौका लगा की पुलिस को बिना गाली के अपने छोटे भाई की तरह सम्बोधित किया गया——

शायद पुलिस विभाग में काम कर रहे हर एक कांस्टेबल दरोगा चौकी इंचार्ज और कोतवाल की मज़बूरी को पहली बार इस महा पंचायत में खोला गया——- हर एक भाषण में उत्तराखंड राज्य के पुलिस कर्मिओं को कोई भी बुरा शब्द नहीं कहा गया—-किसी आंदोलन और इतनी बड़ी महापंचायत में यह पहला ही मौका दिखाई दिया—–यहाँ पुलिस विभाग के लोग आंदोलन करने वालों को अपने ही परिवार के सदयस महसूस हुए—-जगह जगह पर भारी पुलिस बल तैनात था—–फायर ब्रिगेड थी और साथ में थे कुछ सुलगते सवाल जो आज उत्तराखंड के नैनीताल जिले की रामनगर तहसील के गाँव वीर पुर लच्छी में हुई महा पंचायत के बाद सामने आये———
इस महापंचायत की कुछ तस्वीरें यह पर हैं—–जो सिर्फ हमारे पास हैं 

इनसाइड कवरेज न्यूज़ – www.insidecoverage.in, www.kashipurcity.com, www.adpaper.in
whatsapp 9690066124

Leave a Reply