मदिरा की दुकानों का आवंटन लाटरी प्रणाली से किया गया

रूद्रपुर,  जिलाधिकारी डाॅ0 पंकज कुमार पाण्डेय की मौजूदगी
में आज विकास भवन सभागार में वर्ष  2015-16 हेतु जनपद की 103 मदिरा की
दुकानों का आवंटन लाटरी प्रणाली से पारदर्शिता  पूर्वक शुरू किया गया।
दुकानों के आवंटन की लाटरी प्रक्रिया को प्रोजेक्टर के जरिये भी प्रदर्शित 
किया गया। जिलाधिकारी द्वारा सर्व प्रथम जनपद की विदेशी  मदिरा की दुकानों
के आवंटन की प्रक्रिया लाटरी निकालकर शुरू की गई जिसके अन्तर्गत रूद्रपुर
नं0-1 की विदेशी  मदिरा की दुकान इन्दु सिंह तथा रूद्रपुर नं0-2 की दुकान
पाला सिंह के नाम आवंटित हुई। इसी प्रकार काशीपुर नं0-1 की दुकान राजेन्द्र
,काशीपुर नं0-2 की अजय काशीपुर नं0-3 की दुकान श्रीमती सुरजीत कौर,किच्छा
नं0-1 की दुकान सिन्धु सिंह,सितारगंज की दुकान जय प्रकाष गुप्ता ,जसपुर की
पृथ्वीपाल,बाजपुर की नत्था सिंह, खटीमा न0-1 राजबीर कौर, खटीमाा न0-2 सरवर
सिंह, किच्छा न0-2 रमावती, काषीपुर रोड रुद्रपुर अवतार सिंह,गदरपुर बादाम
सिंह, सितारगंज गेट विनोद कुमार, लालपुर कपिल शर्मा, शक्तिफार्म शशि कला तथा
आईजीएल गेट काशीपुर कुलदीप चन्द, ट्राजिंट कैम्प जोगी दास,बाजपुर दोराहा
दीप षंकर,बिडौरा मझोला सचिन चावला,चारूबेटा हरवंष लाल,महुआखेडागंज अमनदीप
कौर, दिनेश पुर कुलदीप सिंह, सुलतानुपर पट्टी हरी सिंह तथा जसपुर मनसा पट्टी
सुखदेव सिंह के नाम आंबटित की गई । समाचार लिखे जाने तक दुकानों की आवंटन
प्रक्रिया जारी थी। उल्लेखनीय है कि जनपद मंे 103 देशी  व विदेशी  मदिरा की
दुकानों का आवंटन किया जाना है जिनमें 34 दुकानें विदेशी मदिरा ,68 देशी
मदिरा की तथा 01 दुकान वियर की शामिल है। मदिरा की दुकानों की आवंटन
प्रक्रिया को शांतिपूर्वक सम्पन्न कराने के लिये विकास भवन में पर्याप्त
पुलिस बल तैनात किया गया था। 
 
जिला
आबकारी अधिकारी तपन कुमार पाण्डेय ने बताया कि जिले की 103 मदिरा की
दुकानों के लिये 11051 आवेदकों द्वारा आवेदन किया गया है। जिसमें लगभग 2442
महिला आवेदक भी शमिल है। उन्होंने बताया कि वर्ष 2015-16 में देशी विदेशी
मदिरा की दुकानों से 80 करोड रूपये का राजस्व प्राप्ति का लक्ष्य
निर्धारित किया गया है।
उन्होंने बताया कि देशी मदिरा की दुकानों के लिये
आवेदन शुल्क के रूप में 18000 रूपये प्रति आवेदन तथा विदेशी मदिरा के लिये
22000 रूपये प्रति आवेदन शुल्क लिया गया है। इस प्रकार देशी मदिरा के आवेदन
पत्र के रूप में 33930000 रूपये तथा विदेशी मदिरा की दुकानों से 201520000
रूपया तथा एक वियर की दुकान के लिये 6 आवेदक से 132000 का शुल्क प्राप्त
हुआ । इस प्रकार आवेदन पत्रों की बिक्री के जरिये कुल 23 करोड 55 लाख 82
हजार का राजस्व अर्जित किया गया है। 
इस
अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नीलेश आनन्द भरणें,अपर जिलाधिकारी नजूल आशीष
भटगई, उप जिलाधिकारी जसपुर विनीत कुमार, जिला आबकारी अधिकारी तपन कुमार
पाण्डये समेत आबकारी विभाग के अन्य अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित थें। 
इनसाइड कवरेज न्यूज़ – www.insidecoverage.in, www.kashipurcity.com, www.adpaper.in

Leave a Reply