Thursday, July 16, 2015

आरटीआई- RTI – लिखने का तरीका (Whats App Update)

RTI मतलब  सूचना का अधिकार – ये कानून  हमारे देश मे 2005 मे लागू हुआ| जिस
का उपयोग कर के आप सरकार और किसी भी विभाग से सूचना मांग सकते है आम तौर
पर लोगो को इतना ही पता होता है| परंतु आज मैं आप को इस के बारे मे कुछ ओर
रोचक जानकारी देता हूँ –
  • आरटीआई से आप सरकार से कोई भी सवाल पूछ कर सूचना ले सकते है
  • आरटीआई से आप सरकार के किसी भी दस्तावेज़ की जांच कर सकते है
  • आरटीआई से आप दस्तावेज़ या Document की प्रमाणित Copy ले सकते है
  • आरटीआई से आप सरकारी काम काज मे इस्तमल सामग्री का नमूना ले सकते है
  • आरटीआई से आप किसी भी कामकाज का निरीक्षण कर सकते है
कुछ लोगो का सवाल मुझे मैसेज मे आया कि आरटीआई मे कौन- कौन सी धारा हमारे काम की है तो उस
का जवाब भी मैं यहाँ लिख देता हूँ –

  • धारा 6 (1) – आरटीआई का application लिखने का धारा है 
  • धारा 6 (3) – अगर आप की application गलत विभाग मे चली गयी है तो गलत
    विभाग इस को 6 (3) धारा के अंतर्गत सही विभाग मे 5 दिन के अंदर भेज देगा 
  • धारा 7(5) – इस धारा के अनुसार BPL कार्ड वालों को कोई आरटीआई शुल्क नही देना होता
  • धारा 7 (6) – इस धारा के अनुसार अगर आरटीआई का जवाब 30 दिन मे नही आता है तो सूचना फ्री मे दी जाएगी
  • धारा 18 – अगर कोई अधिकारी जवाब नही देता तो उस की शिकायत सूचना अधिकारी को दी जाए
  • धारा 8 – इस के अनुसार वो सूचना आरटीआई मे नही दी जाएगी जो देश की
    अखंडता और सुरक्षा के लिए खतरा हो या विभाग की आंतरिक जांच को प्रभावित
    करती हो
  • धारा 19 (1) – अगर आप की आरटीआई का जवाब 30 दिन मे नही आता है तो इस धारा के अनुसार आप प्रथम अपील अधिकारी को प्रथम अपील कर सकते हो
  • धारा 19 (3) – अगर आप की प्रथम अपील का भी जवाब नही आता है तो आप इस
    धारा की मदद से 90 दिन के अंदर 2nd अपील अधिकारी को अपील कर सकते हो

अब किसी ने पूछा था कि आरटीआई कैसे लिखे ?
इस के लिए आप एक साधा पेपर ले और उस मे 1 इंच  की कोने से जगह छोड़े और नीचे दिए
गए प्रारूप मे अपने आरटीआई लिख ले –

…………………………

……………

सूचना का अधिकार 2005 की धारा 6(1) और  6(3) के अंतर्गत आवेदन 

सेवा मे
(अधिकारी का पद)/ जन सूचना अधिकारी  विभाग का नाम
विषय – आरटीआई act 2005 के अंतर्गत …………… … से संबधित सूचनाए
1- अपने सवाल यहाँ लिखे
2-
3
4
मैं आवेदन फीस के रूपमें 10रूका पोस्टल

ऑर्डर …….. संख्या अलग से जमा कर रहा /रही हूं। या मैं बी.पी.एल. कार्ड
धारी हूं इसलिए सभी देय शुल्कों से मुक्त हूं। मेरा बी.पी.एल. कार्ड 
नं…………..है। यदि मांगी गई सूचना आपके विभाग/ कार्यालय से सम्बंधित
नहीं हो तो सूचना का अधिकार अधिनियम, 2005 की धारा 6 (3) का संज्ञान लेते
हुए मेरा आवेदन सम्बंधित लोक सूचना अधिकारी को पांच दिनों के समयावधि के
अन्तर्गत हस्तान्तरित करें।  साथ ही अधिनियम के प्रावधानों के तहत सूचना
उपलब्ध् कराते समय प्रथम अपील अधिकारी का नाम व पता अवश्य बतायें। 

भवदीय,
नाम-
पता –
………………………………………
………………………..
………………………………………
………………………..
ये सब लिखने के बाद अपने Sign कर दे , 

अब मित्रो केंद्र से सूचना मांगने के लिए आप 10  देते है और एक पेपर की
कॉपी मांगने के 2  देते है, और हर राज्य का आरटीआई शुल्क अगल अलग है जिस का
पता आप कर सकते हैं।
=====================
जागो और जगाओ …………!
आर टी आई का उपयोग करें भष्टाचार को उजागर करें । एक कदम श्रेष्ट भारत की ओर।
“शुभारम्भ” संस्था भारत द्वारा जनहित में प्रचार प्रसार
www.kashipurcity.com & www.adpaper.in – न्यूज़, जॉब अलर्ट, ऑनलाइन डील

जिलाधिकारी ने हरेले की गुड़ाई निराई कर हरेला पर्व की बधाई दी

रुद्रपुर 16 जुलाई  – उत्तराखण्ड शासन की पहल पर कुमाऊं का प्रसिद्ध
लोक पर्व ‘‘हरेला ‘‘जनपद में भी उत्साह पूर्वक मनाया जा रहा है ।
जिलाधिकारी डा0 पंकज कुमार पाण्डेय द्वारा भी अपने कार्यालय में दो गमलों
में 09 दिन पूर्व हरेला बोया गया। जिलाधिकारी ने आज हरेले की गुड़ाई निराई
कर जनपद वासियों को हरेला पर्व की बधाई दी। जिलाधिकारी ने कहा कि पर्यावरण
संरक्षण के लिए हरेला पर्व से प्रेरणा लेकर हम सभी लोगों को हरियाली युक्त
वातावरण बनाने हेतु अपने आस पास पेड़ लगाने होगें। उन्होंने कहा कि सरकार
द्वारा आओ मनाये हरियाला पर्व को मेरा वृक्ष मेरा धन योजना से भी जोड़ा गया
है। इसमें विभिन्न प्रजातियों के पौध रोपण में 03 वर्श तक वृक्ष सुरक्षित
रहने पर पौध लगाने वाले व्यक्ति को पौधों की प्रजाति के अनुसार 300 रुपया व
400 रुपया प्रति वृक्ष की दर से प्रति वर्श प्रोत्साहन राषि दी जायेगी। 
         इस अवसर पर एडीएम दीप्ति वैष्य व आषीश भटगई, प्रभारी अधिकारी कलेक्ट्रेट चन्द्र सिंह इमलाल सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
www.kashipurcity.com & www.adpaper.in – न्यूज़, जॉब अलर्ट, ऑनलाइन डील

हरेला महोत्सव ‘वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन’

रुद्रपुर 16 जुलाई  – वृक्षारोपण एवं पर्यावरण संरक्षण को प्रोत्साहित
किये जाने के मकसद से 10 जुलाई से 18 जुलाई तक पूरे जनपद में हरेला
महोत्सव मनाया जा रहा है। इसी क्रम में आज जिलाधिकारी द्वारा कैम्प
कार्यालय व कलेक्ट्रेट परिसर में वृहद वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया
गया। जिलाधिकारी ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण के लिए वृक्षारोपण बहुत जरुरी
है। उन्होंने कहा कि हरियाली खुशहाली का प्रतीक है, इसलिये पौध रोपण करने
के साथ ही उनकी देखभांल व उन्हें कटने से बचाना भी प्रत्येक व्यक्ति का
फर्ज है। उन्होंने कहा कि रोपे गये पौधे दीर्घकाल तक जीवित रहे तभी हरी भरी
धरती का उद्देष्य पूरा हो सकता है। उन्होंने बताया कि उत्तराखण्ड बनने के
बाद राज्य में चार से पांच प्रतिषत वन क्षेत्र में वृद्धि हुई है। उनहोंने
कहा कि वन क्षेत्र एवं घनत्व में विस्तार हेतु जनपद में हरेला महोत्सव के
अन्तर्गत छायादार,फलदार,सौन्दर्यीकृत एवं चारा प्रजातियों के पौध रोपण किये
जा रहे है। 

 
      जिलाधिकारी ने कहा कि पौध रोपण का कार्य जनपद
में सभी अधिकारी/कर्मचारियों द्वारा लगातार चलाया जायेगा। आज कलक्टेªट
कम्पाउण्ड में जिलाधिकारी के साथ ही अपर जिलाधिकारी दीप्ति वैष्य व आषीश
भटगई, जिला उद्यान अधिकारी रतन सिंह, कलेक्ट्रेट प्रभारी चन्द्र सिंह इमलाल
व अन्य विभागों के अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा भी पौध रोपण किया गया।
जिलाधिकारी ने अधिकारियों से कहा कि पौध रोपण के साथ साथ पौधों को जीवित
रखना भी उनका दायित्व है।
 
      इस अवसर पर प्रभागीय वनाधिकारी
सनातन ने कहा कि जनपद में वृक्षारोपण कार्यक्रम चलाया जा रहा है। मेरे
वृक्ष मेरा धन योजना के अन्तर्गत भी जनपद में जो व्यक्ति पौध की मांग कर
रहे है उन्हें ब्लाक स्तर से पौध उपलब्ध कराई जा रही हंै। जिला उद्यान
अधिकारी रतन सिंह ने बताया कि  वृक्षारोपण व मेरा वृक्ष मेरा धन योजना के
तहत जनपद में 02 लाख 20 हजार फलदार पौध लगाने जाने का लक्ष्य रखा गया है
जिसके अन्तर्गत आम,नीबू,अमरूद,लीची,आंवला व कटहल के पौधों का रोपण कराया जा
रहा है। 
 
      वृक्षारोपण कार्यक्रम में जिला विकास अधिकारी
आरसी तिवारी, जिला षिक्षा अधिकारी डाॅ0 पीएन सिंह व केके वाश्र्णेय,जिला
पूर्ति अधिकारी बिपिन कुमार,जिला कार्यक्रम अधिकारी ललिता वर्मा,जिला
क्रीडा अधिकारी सुरेश चन्द्र पाण्डेय,जिला पर्यटन विकास अधिकारी कीर्ति
चन्द्र आर्य, सहायक मनोरजंन कर आयुक्त सुरेश चन्द्र,जिला युवा कल्याण
अधिकारी एमएस नगन्याल समेत कलक्ट्रेट  के तमाम अधिकारी कर्मचारी मोैजूद
थे।

इनसाइड कवरेज न्यूज़ – www.insidecoverage.in, www.kashipurcity.com, www.adpaper.in

Leave a Reply